अन्य खबर

पंप हाउस में युवती की 51 बार वार कर हत्या करने वाला शाहबाज खान राजनांदगांव से गिरफ्तार ।

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

दिनांक 24 दिसंबर 2022 को सीएसईबी चौकी क्षेत्र अंतर्गत पंप हाउस कॉलोनी निवासी 20 वर्षीय युवती नील कुसुम पन्ना नामक युवती की हत्या के मामले में आरोपी शाहबान खान को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिली है , वारदात के बाद आरोपी अंबिकापुर में रुकने के बाद अहमदाबाद भाग गया था । जिसकी गिरफ्तारी हेतु चार अलग-अलग टीमें लगी हुई थी , सैकड़ों सीसीटीवी कैमरे की मदद एवं आरोपी के बैंक डिटेल के माध्यम से आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है , वारदात के बाद आरोपी को भागने में सहयोग करने वाले आरोपी के मेमेरा भाई तबरेज खान उर्फ छोटू को भी गिरफ्तार किया गया है ।
मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 24. 12.2022 को प्रार्थी बुधराम पन्ना पिता रूप साय पन्ना निवासी पंप हाउस कॉलोनी सीएसईबी चौकी थाना कोतवाली के द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराया गया कि उसकी 20 वर्षीय पुत्री कुमारी नील कुसुम पन्ना को किसी व्यक्ति के द्वारा पेचकश जैसे नुकीले हथियार से मारकर हत्या कर दिया है, घटनास्थल पर पेचकस और शाहबाद खान नामक व्यक्ति का आधार कार्ड , फ्लाइट एवं बस का टिकट पड़ा हुआ है , सूचना पर पुलिस चौकी सीएसईबी में आरोपी शहबान खान के विरुद्ध अपराध क्रमांक 1287/2022 धारा 302 भादवी पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । विवेचना दौरान मृतिका के शव का पंचनामा कर पीएम कराया गया , पीएम रिपोर्ट में नुकीले हथियार से वार कर हत्या करना पाया गया है। घटनास्थल से आरोपी शहबान खान का आधार कार्ड , अहमदाबाद से रायपुर तक आने के फ्लाइट का टिकट, रायपुर से कोरबा तक आने का बस का टिकट बरामद हुआ ।
मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के नेतृत्व , नगर पुलिस अधीक्षक कोरबा विश्वदीपक त्रिपाठी के पर्यवेक्षण में आरोपी के गिरफ्तारी हेतु चार अलग-अलग टीमों का गठन किया गया , एक टीम के द्वारा शुरू किया गया । एक टीम के द्वारा आरोपी शाहबान खान के निवास जशपुर जाकर उसका पूर्व अपराधिक इतिहास और सहयोगियों के बारे में पता करना प्रारंभ किया , एक टीम के द्वारा घटनास्थल पर उपलब्ध साक्ष्य का विश्लेषण कर सबूत एकत्रित करना प्रारंभ किया किया गया , साइबर सेल की टीम को 2 भागों में बांटकर सीसीटीवी फुटेज और तकनीकी आधार पर आरोपी के बारे में पतासाजी कर शीघ्र गिरफ्तारी हेतु निर्देश दिए गए ।

सभी टीमों द्वारा टास्क के मुताबिक जिम्मेदारी पूर्वक विवेचना प्रारंभ किया गया । घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी फुटेज में आरोपी टीपी नगर की ओर से पैदल आते और भागते हुए दिखाई का जिसके आधार पर आगे बढ़ने पर पाया कि आरोपी होटल शालीन में रात्रि करीब 1 बजे आकर रुका था जहा से प्रातः 8.10 बजे चेकआउट किया है ,घटना के बाद वापस होटल नही गया है । आरोपी के भागने के संभावित रास्तों पर लगे सीसीटीवी कैमरों का अवलोकन करते हुए आगे बढ़ने पर पाया गया कि आरोपी नया बस स्टैंड टीपी नगर कोरबा से टैक्सी में सवार होकर कटघोरा बस स्टैंड के पास उतरा है, कटघोरा से अंबिकापुर बस की ओर गया है , एक टीम को तत्काल अंबिकापुर रवाना किया गया जो अलग अलग स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के मदद से पता चला कि आरोपी ने एक एटीएम से कुछ रकम निकाला है । सीसीटीवी कैमरे में 2 लोग दिखाई दे रहे थे आरोपी अपने मुंह पर गमछा बांधा हुआ था किंतु आरोपी के साथी का चेहरा खुला हुआ था , मुखबिर ने पहचान कर बताया उक्त व्यक्ति आरोपी का ममेरा भाई तबरेज खान है,तबरेज खान भी घर से फरार पाया गया । मुखबिरों ने बताया कि आरोपी सहबान खान को तबरेज खान के साथ देखा गया है और वह उसको भगाने का प्रबंध कर रहा है और उसको नया मोबाइल नंबर भी दिया है । किंतु नंबर बंद आ रहा था । स्थानीय मुखबिरों और बस एजेंटो ने बताया कि आरोपी 26 तारीख को बस के माध्यम से बनारस होकर गया है इस आधार पर सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन करते हुए टीम बनारस होकर अहमदाबाद पहुंची ,किंतु पुलिस के आने की सूचना आरोपी को तबरेज खान ने दे दिया था ।

पुलिस की एक टीम अहमदाबाद में ही रोककर आरोपी के बारे में तलाश करती रही इसी दौरान दिनांक 28 दिसंबर को आरोपी ने पुणे स्थित रेलवे स्टेशन के पास से अपने अकाउंट से पैसा निकाला है , जानकारी मिलते ही एक टीम तत्काल पुणे महाराष्ट्र के लिए रवाना किया गया , मुखबिर ने कि आरोपी तबरेज खान रायपुर गया हुआ है जो कि आरोपी को भगाने का प्रबंध कर रहा है, इस आधार पर आरोपी तबरेज खान को पकड़ने के लिए एक टीम रायपुर रवाना किया गया , किंतु दोनों आरोपियों का मोबाइल बंद होने से पुलिस को ,सफलता नहीं मिल पा रही थी । इसी दौरान नागपुर गई टीम के स्थानीय मुखबिर एवं सूचना तंत्र के माध्यम से पता कि आरोपी पुणे नागपुर से दुर्ग की ओर जाने वाली बस में सवार होकर निकला है बस का सही पता नहीं चल पा रहा था , अतः रायपुर गए हुए टीम को तत्काल नागपुर दुर्ग हाईवे पर आने वाली बसों को चेकिंग करने के लिए राजनांदगांव रवाना किया गया , महाराष्ट्र गई टीम भी महाराष्ट्र से रायपुर के लिए निकली ,राजनांदगांव पुलिस की मदद से चिचोला बॉर्डर पर महाराष्ट्र की ओर से आने वाली सभी वाहनों की सघन चेकिंग शुरू की गई तो आरोपी बस में सवार होकर आता हुआ मिला , पूछताछ पर उसने बताया कि तबरेज खान रायपुर में आया हुआ है जिससे मिलकर दोनों भागने का प्लान कर रहे थे ।
अंततः 07 दिवस की कड़ी मेहनत के बाद कोरबा पुलिस द्वारा आरोपी शाहबान खान एवं उसके सहयोगी तबरेज खान को गिरफ्तार करने में सफल हुई ।
पूछताछ पर आरोपी शाहबान खान बताया कि वह पूर्व में सिटी बस में कंडक्टर था , उसी बस में मृतिका आना-जाना करती थी , जहां से दोनों की पहचान हुई और दोनों आपस में प्रेम करने लगे , किंतु आरोपी कोरबा से काम छोड़कर आहदाबाद काम करने चला गया तो मृतिका किसी दूसरे लड़के को पसंद करने लगी , जिसे वह कई बार मना किया था किंतु नहीं मानने पर त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग में फंसकर समझाने की नीयत से कोरबा आया और मृतका के घर जाकर मिला दोनो के मध्य शारीरिक संबंध भी बना था ,आरोपी ने मृतिका को समझाने का प्रयास किया , किंतु मृतका किसी दूसरे से प्रेम संबंध होने से इंकार करती रही तब गुस्से में आकर उसने मृतिका का हत्या कर दिया ।
मामले में गिरफ्तार दूसरा आरोपी तबरेज खान मुख्य आरोपी शहबान खान का ममेरा भाई है जो कि इस मामले में आरोपी को छिपाने में सहयोग कर रहा था , अपने नाम का सिम कार्ड आरोपी को दिया था , साथ ही पुलिस की हर गतिविधि की सूचना आरोपी तक पहुंचा रहा था , अतः उसे भी इस मामले में आरोपी बनाया गया है । मामले में गिरफ्तार दोनों आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर पेश किया जा रहा है ।

गिरफ्तार आरोपी का नाम :–

1 . शहबान खान उर्फ़ बाबू पिता स्व. अब्दुल रज्जाक खान उम्र 28 साल सा. ग्राम रूपसेरा (भड़िया ) थाना बगीचा जिला जशपुर

2 . तवरेज खान उर्फ़ छोटू पिता अयूब खान उम्र 21 साल सा. लरंगा थाना सन्ना जिला जशपुर

Jitendra Dadsena

100% LikesVS
0% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button