अन्य खबर

वेदांता एल्यूमिनियम ने बिजली उद्योग के लिए लॉन्च किया 12 मिमी एल्यूमिनियम वायर रॉड, ओडिशा में आयोजित अंतरराष्ट्रीय एल्यूमिनियम सम्मेलन 2023 में किया गया उत्पाद का प्रदर्शन।

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

नई दिल्ली, 9 फरवरी 2023। भारत के सबसे बड़े एल्यूमिनियम उत्पादक वेदांता एल्यूमिनियम ने अंतरराष्ट्रीय एल्यूमिनियम सम्मेलन (आईएसी) 2023 में बिजली उद्योग के लिए 12 मिलीमीटर एल्यूमिनियम वायर रॉड लॉन्च किया। साउथवायर (यूएसए) और कंटीन्यूअस-प्रॉपरजी (इटली) की अत्याधुनिक तकनीकों से लैस वेदांता की उत्पादन क्षमता 560 किलो टन है। वेदांता एल्यूमिनियम उच्च गुणवत्ता के इलेक्ट्रिकल कंडक्टर (ईसी) ग्रेड वायर रॉड का सबसे बड़ा उत्पादक है जिसका प्रयोग बिजली उद्योग में पारेषण और वितरण तंत्र के लिए वायर और केबल के तौर पर किया जाता है। इसके साथ ही कॉइल और वाइंडिंग, हीटिंग और कूलिंग ट्यूब आदि उपकरणों में ईसी वायर रॉड का प्रयोग होता है।
वेदांता की झारसुगुडा (ओडिशा) और बालको (छत्तीसगढ़) स्थित स्मेल्टर इकाइयों में अत्याधुनिक प्रॉपरजी कंटीन्यूअस कास्टिंग तकनीक की मदद से 12 मिमी वायर रॉड तैयार किए जाते हैं। नए उत्पाद का प्रयोग एक्सट्रूजन, ड्रॉइंग और रोलिंग उद्योगों द्वारा ट्रांसफॉर्मर, ऑटोमोबाइल और अन्य अन्य कार्यों के लिए किया जा सकता है। 12 मिमी वायर रॉड वेदांता के उच्च कोटि के वायर रॉड उत्पादों की श्रृंखला में नई पेषकष है। इस सेगमेंट में 7.6 मिमी, 9.5 मिमी और 15 मिमी ईसी-ग्रेड वायर रॉड, एलॉय वायर रॉड (8एक्सएक्सएक्स सीरीज़) और फ्लिप कॉइल उपलब्ध हैं।
वेदांता ने अपनी मिलों में ऐसी स्वचालित तकनीकें स्थापित की हैं जिनकी मदद से शुद्धता और सूक्ष्म बारीकियों का ध्यान रखते हुए ग्राहकों की मांग के अनुरूप उच्च गुणवत्ता के वायर रॉड तैयार किए जाते हैं। इन उत्पादों में सतह की बेहतर फिनिशिंग होती है तथा ग्राहकों की जरूरत के अनुसार वाइंडिंग पैटर्न और ल्युब्रिकेशन में लचीपालन उपलब्ध कराए जाते है। कंपनी के वायर रॉड 100 प्रतिशत प्राइमरी एल्यूमिनियम से बनाए जाते हैं। धातु की शुद्धता और हाइजीन के मामले में ये उत्पाद वैश्विक प्रतिस्पर्धियों के उत्पादों के समकक्ष हैं। भारतीय बाजार में वेदांता के 12 मिमी वायर रॉड के बारे में ग्राहकों की राय अत्यंत उत्साहजनक है। वैश्विक बाजारों में इस उत्पाद के निर्यात के लिए कंपनी विस्तार की रणनीतियों पर काम कर रही है।
वेदांता लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, एल्यूमिनियम व्यवसाय श्री राहुल शर्मा ने यह उत्पाद लॉन्च करते हुए कहा कि ‘‘हमें इस बात की खुशी है कि बिजली उद्योग के लिए हमने अपना नवीनतम उत्पाद 12 एमएम वायर रॉड लॉन्च किया। किसी भी देश और उसके नागरिकों के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए विश्वसनीय और स्वच्छ ऊर्जा की उपलब्धता अत्यंत महत्वपूर्ण है। बिजली उद्योग के लिए एल्यूमिनियम आवश्यक कच्चा माल है। बिजली के उत्पादन, पारेषण और वितरण में एल्यूमिनियम का उपयोग होता है। वेदांता एल्यूमिनियम वायर रॉड सेगमेंट में अपने दमदार पोर्टफोलियो के साथ लंबे समय से बिजली उद्योग का पसंदीदा आपूर्तिकर्ता रहा है। हमारे सभी उत्पादों, उनके उत्पादन और नवाचार प्रक्रिया में हमारे लिए ग्राहक और उनकी आवश्यकताएं सर्वोपरि हैं। इसलिए हम ग्राहकों की व्यावसायिक उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए उन्हें विभिन्न स्तरों पर समग्र समाधान उपलब्ध कराने के लिए तत्पर हैं। 12 मिमी वायर रॉड्स का लॉन्च इसका प्रमाण है कि हम ग्राहकों के साथ मिल कर उनकी वर्तमान और आने वाली जरूरतों के अनुरूप उच्च गुणवत्ता का उत्पाद बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’’
तेजी से उभरते एवं विकसित हो रहे क्षेत्र के तौर पर एल्यूमिनियम उद्योग में अपार संभावनाए हैं। सस्टेनेबिलिटी के प्रति संवेदनशील दुनिया में एल्यूमिनियम धातु के अनेक अनुप्रयोगों को प्रोत्साहन मिल रहा है। ऐसे में वेदांता एल्यूमिनियम ‘उत्कृष्टता केंद्र’ स्थापित करने की दिशा में प्रयासरत है। इस उत्कृष्टता केंद्र में अनुसंधान एवं विकास, नवाचार, प्रचालन, विपणन और वैश्विक तकनीकी विशेषज्ञता एक साथ मिल कर एल्यूमिनियम उद्योग के अगले बड़े कदम की नींव रखेंगे। ग्राहकों को प्रतिस्पर्धा का लाभ देने के उद्देश्य से अनुप्रयोग आधारित उत्पाद पेश कर वेदांता एल्यूमिनियम निरंतर अपने मूल्य संवर्धित उत्पादों के पोर्टफोलियो का विस्तार कर रहा है। इस दृष्टि से कंपनी अपनी विनिर्माण दक्षता में बढ़ोत्तरी के लिए भविष्य की तकनीकों को अपने प्रचालन में स्थान दे रही है।
कंपनी ने हाल में झारसुगुड़ा में अपने स्मेल्टर के पास वेदांता एल्यूमिनियम पार्क योजना की घोषणा की है। यहां बिजली समेत विभिन्न उद्योगों की कंपनियां अपने उत्पादन केंद्र स्थापित कर सकती हैं। ये कंपनियां अपने उत्पादों के लिए कम समय में उच्च गुणवत्ता की गर्म एल्यूमिनियम धातु प्राप्त कर सकती हैं। एल्यूमिनियम पार्क की कंपनियां वेदांता के उत्कृष्टता केंद्र, स्टार्टअप इकोसिस्टम और पूरी दुनिया के विशेषज्ञों के परामर्ष सहित अन्य कई अन्य लाभ उठा सकेंगी।वेदांता लिमिटेड की इकाई वेदांता एल्यूमिनियम भारत की सबसे बड़ी एल्यूमिनियम उत्पादक है। वित्तीय वर्ष 2021-22 में 22.7 लाख टन उत्पादन के साथ कंपनी ने भारत के कुल एल्यूमिनियम का आधे से ज्यादा हिस्सा उत्पादित किया। यह मूल्य संवर्धित एल्यूमिनियम उत्पादों के मामले में अग्रणी है, इन उत्पादों का प्रयोग कई अहम उद्योगों में किया जाता है। वेदांता एल्यूमिनियम को एल्यूमिनियम उद्योग में डाउ जोंस सस्टेनेबिलिटी इंडेक्स (डीजेएसआई) 2022 में दूसरी वैश्विक रैंकिंग मिली है, जो इसकी सस्टेनेबल डेवलपमेंट प्रक्रियाओं का प्रमाण है। देश भर में अपने विश्वस्तरीय एल्यूमिनियम स्मेल्टर्स, एल्यूमिना रिफाइनरी और पावर प्लांट्स के साथ कंपनी हरित भविष्य के लिए विभिन्न कार्यों में एल्यूमिनियम के प्रयोग को बढ़ावा देने और इसे ‘भविष्य की धातु’ के रूप में पेश करने के अपने मिशन को पूरा करती है।

Jitendra Dadsena

50% LikesVS
50% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button