कोरबा खबर

वार्ड क्रमांक 29 के कांग्रेसी पार्षद प्रदीप राय द्वारा झूठा व कूटरचित शपथपत्र बनाकर शासन से छल व धोखा करने के साथ गलत तरीके से रकम निकाल कर उपयोग के संबंध में प्रथम सूचना दर्ज कर कार्यवाही करने हेतु, बद्री अग्रवाल ने जिलाधीश को लिखा पत्र।

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

कोरबा:- बद्री अग्रवाल द्वारा लिखा गया पत्र।………………… वार्ड क्रमांक 29 के कांग्रेसी पार्षद, खाद्य विभाग के मेयर इन कॉउन्सिल सदस्य प्रदीप राय द्वारा झूठ शपथ पत्र एवं झूठी जानकारी प्रस्तुत कर नगर निगम कोरबा से वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2,28,750 रुपये अपने SBI खाता क्रमांक 34237974642 में प्राप्त कर शासन को आर्थिक नुकसान पहुँचाया है

1) प्रदीप राय द्वारा दिनांक 30 मई 2019 को शपथ पत्र में अपने सभी स्त्रोतों से अपनी वार्षिक आय 60,000 रुपये बताया है जबकि 2019 में उसे पार्षद का मानदेय प्रतिमाह 7700 रुपये मिलता था, जो कि 92400 रुपये वार्षिक होता है |

2) प्रदीप राय द्वारा फॉर्म में स्वयं को बीपीएल कार्डधारी होना नहीं बताया गया है जबकि प्रदीप राय की पत्नी माधुरी राय के नाम पर मजदूर कार्ड और बीपीएल राशन कार्ड क्रमांक 223837255221 है, प्रदीप राय द्वारा प्रत्येक माह शासकीय राशन भी किया जा रहा हैं, जिससे सरकार को आर्थिक नुकसान हो रहा है |

3) प्रदीप राय द्वारा दर्शाए गए खसरा क्रमांक 330 में मकान नहीं बनाया गया है, उसके बाद पूर्व से स्वयं का पक्का मकान सहित भोगविलासीता की सभी वस्तु मौजूद है |

4) प्रदीप राय द्वारा 2020 में indusland बैंक से मारुति की कार फाइनेंस कराई गई, प्रदीप राय का कस्टमर कोड CW3691815 है, जिसकी प्रतिमाह किश्त 7530 रुपये है, 60000 वार्षिक कमाई वाला व्यक्ति 7530 रुपये प्रतिमाह बैंक में किश्त कैसे भर रहा है ये भी स्वयं में बहुत बड़ा प्रश्नचिन्ह है |

जहाँ एक ओर गरीब आदमी प्रधानमंत्री आवास को तरस रहे है, उसे पट्टा नही मिल पा रहा है तो वही दूसरी ओर कांग्रेस पार्षद अपने पद का गलत फायदा उठाकर गरीबों के हक में डाका डाल रहा है, पार्षद प्रदीप राय द्वारा सत्ता के मद में चूर हो के शासन की योजना जो आम जनता के हित में होता है उसका जिस प्रकार दुरुपयोग किया गया है वह अत्यंत गंभीर और अपराधिक है जिस पर प्रशासन को तत्काल संज्ञान ले कर कार्यवाही कर इस पर छल, धोखाधड़ी, के साथ कूटरचित दस्तावेज निर्माण के साथ व्यक्तिगत रूप से आर्थिक लाभ प्राप्त करने हेतु शासन की राशि का दुरुपयोग कर उपभोग किया गया है जो अपराध की श्रेणी में आता है आपसे विनम्र आग्रह के साथ निवेदन है कि उक्त मामले की जांच करते हुए प्रदीप राय पर धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कराते हुए राशि की वसूली करते हुए पार्षद प्रदीप राय का पार्षद निर्वाचन शून्य करने की महान कृपा करें, साथ ही इस कार्य मे प्रदीप राय का साथ देने वाले दोषी अधिकारियों पर भी कड़ी कार्यवाही करने की कृपा करें ताकि भविष्य में कोई पार्षद अपने पद का दुरपयोग करते हुए शासन को आर्थिक नुकसान ना पहुचाये और आपकी कार्यवाही के लिए कोरबा की गरीब जनता जिनका हक प्रदीप राय द्वारा लुटा गया है वो जनता आजीवन आपकी ऋणी रहेगी |

Jitendra Dadsena

100% LikesVS
0% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button