अन्य खबर

महासमुन्द पुलिस द्वारा बसना के बुलबुल ज्वेलरी शॉप में हुई चोरी का खुलासा।

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow


➡️ आरोपी से चोरी की गई सोने चांदी के आभूषणों की शत्प्रतिशत बरामदगी व घटना में प्रयुक्त औजार भी बरामद।
➡️ आरोपी पूर्व में बैंक चोरी, ज्वेलर्स व इलेक्ट्रानिक दुकान, घर चोरी, के मामलों में गोंदिया महाराष्ट्र, कवर्धा, कोण्डागांव, जगदलपुर, केशकाल, दल्लीराजहरा, बलौदा बाजार, रायपुर में भी जा चुका है जेल।
➡️ आरोपी ने अकेले ही बसना व सरायपाली में घुमकर ज्वेलरी शॉप की रैकी कर दिया था घटना अंजाम।

घटना का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 09.08.2022 को प्रार्थी अकाश अग्रवाल पिता प्रमोद अग्रवाल सा. वार्ड नं. 13 बसना महासमुन्द के द्वारा थाना बसना में आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह पदमपुर रोड बसना में बुलबुल ज्वेलर्स का संचालन करता है उसी कॉम्पलेक्स इसके भाई विकास अग्रवाल का इलेक्ट्रीकल्स का दुकान भी है। दिनांक 08.08.2022 को रात्रि में 09ः00 बजे अपने दुकान को ताला बंद कर घर चला गया था। अगले दिन दिनांक 09.08.2022 को सुबह 09ः00 बजे दुकान के सामने का शटर खोल कर अन्दर गया तो देखा कि इसकी ज्वेलरी शॉप व साईड का शटर का ताला टुटा तथा शटर थोडा उठा हुआ था अन्दर जाकर देखा तो ज्वेलरी स्टाक बॉक्स बिखरा व खाली पडा था ड्राज एवं गल्ला टुटा हुआ था तथा गल्ला में रखा नगदी रकम नही था व उनके इलेक्ट्रानिक दुकान का भी गल्ला टुटा हुआ था जिसमें रखे नगदी रकम नही था। दुकान के उपर छत में जाकर देखे तो उपर का शटर टुटा हुआ था किसी अज्ञात चोर द्वारा रात छत के उपर शटर को टोड कर दुकान अन्दर घुस कर दुकान में रखे सोने के आभूषण वजनी करीबन 350 ग्राम एवं कुछ चांदी के आभूषण कीमति करीब 17,00,000 रूपये व नगदी रकम 50,000 रूपये जुमला कीमति 17,50,000 रूपये किसी अज्ञात चोर द्वारा चोरी कर ले गया है। प्रार्थी की लिखित रिपोर्ट पर थाना बसना महासमुन्द में अपराध 415/22 धारा 457, 380 भादवि पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक महासमुन्द श्री भोजराम पटेल (प्च्ै) ने घटना की गंभीरता को देखते हुये एवं शीघ्र घटना स्थल पहुच कर घटना स्थल निरीक्षण कर सायबर सेल महासमुन्द, थाना बसना की टीम को आरोपी की पता तलाश करने हेतु निर्देशित किया। पुलिस अधीक्षक महासमुन्द महोदय द्वारा चार टीम का गठन किया गया। जिसमें टीम 01 का अनुविभागीय अधिकारी (पु.) सरायपाली श्री विकास पाटले, टीम 02 का थाना बसना प्रभारी कुमारी चन्द्राकर एवं थाना स्टॉफ, टीम 03 का उनि0 संजय राजपूत प्रभारी सायबर सेल , टीम का 04 सउनि0 प्रकाश नंद व ललित चन्द्रा के द्वारा अलग-अलग कार्यो का नेतृत्व किया। सभी टीम को अलग-अलग दिशाओं में सीसीटीवी फुटेज एवं तकनीकि सहायता के मदद से अज्ञात आरोपी के बारे में जानकारी एकत्र करना शुरू किया एवं टीम द्वारा घटना का निरीक्षण किया गया निरीक्षण दौरान चोर द्वारा घटना में प्रयुक्त ताला तोडने का पेचकस छोडा गया था तथा घटना स्थल के छत के उपर सिनटैक्स पानी टंकी में आरोपी के द्वारा घटना के समय पहने बरसाती कपडा एवं जिन्स पैन्ट शर्ट को छोडा गया था तथा दुकान में लगें सीसीटीवी फूटेज का भी निरीक्षण किया गया जिसमें आरोपी के द्वारा घटना स्थल पर जाकर सीसीटीवी को बंद कर दिया गया था।

आरोपी द्वारा छोडे गये सामग्रीयों को एवं सीसीटीवी फूटेज को साक्ष्य के तौर पर आधार मान कर उपरोक्त टीमों द्वारा अलग-अलग दिशा में कार्य किया गया। तथा ऐरिया में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया और दुकान में सीसीटीवी फुटेज की भी बारिकी से जॉच कि गई। पूर्व में चोरी के प्रकरण में बंद हुये आरोपीयों के रिकार्ड भी खंगाला गया। तथा शरहदी जिलों के चोरी के आदतन अपराधियों के भी जानकारी एकत्र की गई। तकनीकि सहायता के मदद से अज्ञात आरोपी के बारे में जानकारी एकत्र करना शुरू किया।

घटना स्थल में प्राप्त सीसीटीवी फूटेज में मिले छाया चित्र को आधार मानकर महासमुन्द जिले एवं शहरदी जिलों में जाकर टीम द्वारा आरोपी के छाया चित्र को दिखाकर पहचान कराया गया। इसी बीच मुखबीर से सूचना मिली की प्राप्त सीसीटीवी फूटेज में कैद छायाचित्र व्यक्ति का हुलिया कन्हैय्या साहू जो बोरियाकला रायपुर में रहता है पूर्व में भी चोरी के प्रकरणों में जेल जा चुका है बताया। टीम के द्वारा उक्त व्यक्ति के बारे में पता तलाश किया गया। मुखबिर के निशानदेही में दिनांक 23.08.2022 को बोरियाकला रायपुर में जाकर उक्त संदेही को घेराबंदी कर सायबर सेल टीम के द्वारा पकडा।

संदेही को टीम द्वारा पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ किया गया जो अपना नाम कन्हैय्या साहू उर्फ कान्हू पिता हीरासिंह साहू उम्र 34 वर्ष सा. बोरियाकला थाना शेजबहार जिला रायपुर का निवासी होना बताया। संदेही से घटना के संबंध में पूछताछ करने पर पुलिस टीम को गोलमोल जवाब देकर टाल मटोल करने लगा। टीम के द्वारा संदेही से कडाई से पूछताछ करने पर अततः टूट गया और अपराध करना स्वीकार किया। बताया कि पूर्व में रायपुर में एक-दो बार चोरी किया था जिससें पकडा गया था तथा जेल भी गया था। जिस कारण रायुपर में पकडा जाने से रायपुर से 100-150 कि.मी. दूर जाकर चोरी करना योजना बनाकर रायपुर से ताला तोडने का औजार पेचकस, छिनी, हथौडी आदि खरीद कर दिनांक 08.08.2022 को बस में बैठकर सरायपाली होते हुये बसना पहुचा तथा चोरी करने हेतु बसना में विभिन्न सराफा दुकानों का पैदल घुम-घुम कर रैकी किया। जो पदमपुर रोड में एक सराफा दुकान को चोरी करने के लिए निशाना बनाया। और रात्रि होने का इंतजार किया दुकान बंद होने के बाद रात्रि 11ः30 बजे दुकान के पीछे तरफ से छत उपर चडकर, छत उपर लगे शटर को काट कर दुकान अन्दर प्रवेश कर व ज्वेलरी दुकान व इलेक्ट्रीक दुकान में ताला को तोड कर स्टाक बॉक्स में रखे सोने के आभूषण व चांदी के आभूषण व गल्ला में रखे नगदी रकम को चोरी करना स्वीकार किया। तथा चोरी के सोना व चांदी के आभूषण तथा नगदी रकम को बैग में भर सुबह करीब 05ः00 बजे बसना से बस बैठ कर रायपुर आ जाना बताया व चोरी सोने व चांदी आभुषणों घर के बाडी में छिपाकर रखना बताया।

आरोपी के कब्जे से सोने व चांदी के आभूषण 350.2 ग्राम क्रमशः 70 ग्राम चांदी के आभूषण जुमला कीमति 17,00,000 रूपये व नगदी रकम 17,200/- रूपये कुल जुमला कीमति करीबन 17,17,200/- रूपये व शेष रकम को आने-जाने व खाना पीना में खर्च कर देना बताया। आरोपी से और पूछताछ करने पर पूर्व में गोंदिया महाराष्ट्र, कवर्धा, कोण्डागांव, जगदलपुर, केशकाल, दल्लीराजहरा, बलौदा बाजार, रायपुर, आरंग में भी घर चोरी, ज्वेलर्स दुकान व विभिन्न दुकानों में भी चोरी करना स्वीकार किया और पुलिस के द्वारा पकडा जाना व जेल बताया। आरोपी के विरूध्द अपराध क्रमांक 415/22 धारा 457, 380 भादवि के तहत् थाना बसना में कार्यवाही की गई। आरोपी अन्तर्राजीय आदतन अपराधी किस्म का व्यक्ति है पुलिस अधीक्षक महासमुन्द, महोदय के द्वारा कार्यवाही में शामिल टीम को 10000 रूपये नगद पुरूस्कार देने की घोषणा की गई है।

यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक श्री भोजराम पटेल (IPS) के मार्गदर्शन में अति0 पुलिस अधीक्षक श्री आकाश राव एवं अनु0अधिकारी (पु) सरायपाली विकास पाटले के निर्देशन मे थाना प्रभारी बसना निरीक्षक कुमारी चन्द्राकर, सायबर सेल प्रभारी संजय सिंह राजपूत, सउनि. प्रकाश नंद, ललित चन्द्रा, प्रवीण शुक्ला, दुलार सिंह यादव प्रआर. मिनेश ध्रुव आर. रवि यादव, शुभम पाण्डेय, अजय जांगडे, अभिषेक राजपूत, कामता आंवडे, छत्रपाल सिन्हा, विकास चन्द्राकर, डेविड चन्द्राकर, सुखनंन्दन निषाद, चंपलेश ठाकुर, सौरभ तोमर, अनिल नायक, संदीप भोई, डिग्री लाल नंद, त्रीनाथ प्रधान, हेमन्त नायक, देव कोसरिया, चन्द्रमणी यादव, विरेन्द्र साहू, लाला राम कुर्रे तथा थाना बसना पुलिस की टीम द्वारा की गई।

गिरफ्तार आरोपी –
01 कन्हैय्या साहू उर्फ कान्हू पिता हीरासिंह साहू उम्र 34 वर्ष सा. बोरियाकला थाना शेजबहार जिला रायपुर

जप्त सम्पत्ति –
01. सोने व चांदी के आभूषण 350.2 ग्राम क्रमशः 70 ग्राम चांदी के आभूषण जुमला कीमति 17,00,000 रूपये।
02. नगदी रकम 17,200 रूपये।

कुल जुमला कीमति 17,17,200/- रूपये (सत्रह लाख सत्रह हजार दो सौ)।

Jitendra Dadsena

100% LikesVS
0% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button