कोरबा खबर

पांच साल से लापता सांसद हुई प्रकट – डॉ. राजीव सिंह

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

कोरबा मानना पड़ेगा कांग्रेस और उसके प्रत्याशी को जिन्होंने पांच साल तक कोरबा लोकसभा क्षेत्र के लिए कुछ नही किया और किया तो सिर्फ अपने खास लोगो के लिए, जिन्हें उपकृत करने में कोई कोर कसर नही छोड़ी | अब कांग्रेस प्रत्याशी घोषित होने से सात दिन पहले ज्योत्सना महंत जिस तरह से सक्रिय हुई वह चुनावी रणनीति के तहत माना जा रहा है ।

भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ. राजीव सिंह ने दावा किया की पांच साल तक जनता जिनका चेहरा देखने के लिए तरसती रही, अब वह खुद वोट मांगने के लिए नजर आएँगी |

डॉ. राजीव सिंह ने कहा की जनता सब जानती है की पिछले पांच सालों में ज्योत्सना महंत ने जनता के लिए क्या किया है । यह सर्वविदित है की उन्होंने जनता से कितनी दुरी बना रखी थी और कोरबा प्रवास पर आती भी थी तो कुछ चुनिन्दा लोगो के यहाँ अपनी नजरे इनायत कर यहाँ से रुखसत हो जाती थी | उन्हें जनता के दुःख दर्द से कोई मतलब नही था । जनता अपनी परेशानियों को दूर करने के लिए उन्हें तलाशती रहती थी | आलम यह था की चुनाव जीतने के बाद उनका अधिकांश समय दिल्ली और रायपुर में बीता कोरबा के लिए वह एक प्रवासी ही रह गई थी |

विधानसभा चुनाव के समय वह अपनी पार्टी के लोगो का प्रचार करने भी नही आई क्या उनसे उम्मीद की जा सकती है की आने वाले पांच साल में जनता ने उन्हें चुन लिया तो वह दोहरा रवैया नही अपनाएंगी | पांच साल तक जनता से दुरी बनाने वाले अब फिर झूठे सपने दिखाकर जनता के बीच झोली फ़ैलाने आ रहे है | जनता भी जानती है की किसकी झोली भरनी है और किसकी नही

डॉ. सिंह ने आगे कहा की भाजपा की केंद्र सरकार के विभिन्न योजनाओ के तहत जो सुविधाए कोरबा को उपलब्ध कराई है उसे अपना नाम देकर सांसद क्या साबित करना चाहती है समस्याओ का अम्बार लगा हुआ है जनता की उन्हें कोई परवाह नही है |

ऐसी स्थिति में जनता क्यों वोट उन्हें देगी यह बात वह खुद बताये आज जनता सवाल पुछ रही है की आखिर क्या काम उन्होंने कोरबा लोकसभा क्षेत्र में किया है जिसपे वह वोट मांग रही है | कोरबा लोकसभा क्षेत्र की जनता ने इसका करारा जवाब पिछले विधानसभा चुनाव में दिया है, जहा 8 विधानसभा सीट मे से मात्र एक सीट पर कांग्रेस को सफलता मिली है और भाजपा की बढ़त लगभग एक लाख से अधिक वोटों की हुई है इसे पाटना आसान नही होगा |

Jitendra Dadsena

100% LikesVS
0% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button