अन्य खबर

कोरबा पुलिस के अवैध नशे के खिलाफ निजात अभियान के तहत ताबड़तोड़ कार्यवाहियों से हड़कंप।

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के निर्देश पर ड्रग्स, नार्कॉटिक्स, अवैध शराब व नशे के खिलाफ कोरबा पुलिस द्वारा माह जुलाई से कार्यवाही व जागरूकता अभियान निजात #Nijaat चलाया जा रहा है। इसके तहत विगत चार माह में ही प्रभावी कार्यवाही करते हुए पुलिस द्वारा आबकारी व एनडीपीएस एक्ट के 982 प्रकरण में 1054 आरोपी गिरफ्तार कर 2022 लीटर शराब जप्त किया गया है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा पुलिस को अवैध नशे के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के आदेश दिए गए है। डीजीपी अशोक जुनेजा व आईजी बिलासपुर रतनलाल डांगी के मार्गदर्शन में एसपी संतोष सिंह के निर्देश में चलाए जा रहे इस अभियान के तहत कड़ी कार्यवाहियां हो रही हैं। जिले में आबकारी एक्ट के 964 प्रकरणों में 1033 आरोपी गिरफ्तार हुए, जिनसे 2022 लीटर अवैध शराब जप्त हुई है। इस अभियान के तहत कुल गिरफ्तार हुए आरोपियों में से गैर-जमानतीय प्रकरणों के कुल 102 आरोपी जेल भेजे गए हैं। गिरफ्तार लोगो में धारा 36 (च) के तहत सार्वजनिक जगहों पर शराब पीकर हुडदंग करने वालों की काफी बड़ी संख्या हैं, जिससे ऐसे लोगों में भय व्याप्त हुआ है।

एनडीपीएस एक्ट में 18 प्रकरणों में 21 आरोपी गिरफ्तार किए गए। जिनसे बड़ी मात्रा में गांजा, नशीले टेबलेट्स, कफ सिरप, हुक्का सहित परिवहन हेतु प्रयुक्त आठ मोटरसाइकिल भी जप्त हुई हैं। स्कूल-कॉलेज के पास प्रतिबंधित क्षेत्र में नशीली सामग्री बेचने वाले दुकानदारों पर कोटपा एक्ट के तहत कार्यवाहियां की गई हैं।

इसके अतिरिक्त जिले में बड़े पैमाने पर, कुल 317 जनजागरूकता कार्यक्रम चलाए गए हैं। जिले के हॉट-बाजार, स्कूल-कॉलेज, त्यवहारों, अन्य धार्मिक आयोजनों आदि में जागरूकता रथ, जिंगल्स, सभा, रैली, जुलूस आदि द्वारा निजात का प्रचार लगातार किया जा रहा है। नशे के आदी लोगों की काउंसलिंग हेतु जिले के थानों में नशा-मुक्ति कक्ष भी निर्माणाधीन है।

इस अभियान में समाज के सभी लोगों व वर्गों की सहभागिता हो रही है और अभूतपूर्व जन-समर्थन मिल रहा है। इसी वर्ष गृह मंत्रालय, भारत सरकार की संस्था बीपीआरएंडडी ने छत्तीसगढ़ पुलिस के निजात अभियान को देश के तीस सर्वोत्तम स्मार्ट-पुलिसिंग अभियानों में शामिल किया था। इस राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्धि पा चुके जीरो-टॉलरेंस कार्यवाही व व्यापक जन-जागरूकता वाले कार्यक्रम, निजात अभियान के अब कोरबा जिले में भी सार्थक परिणाम आने लगे हैं।

Jitendra Dadsena

100% LikesVS
0% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button