अपराध

एएसआई की दबंगई – थाने में मोटर सायकल चोरी की सूचना देने गए विधि के जानकार अधिवक्ताओ से की अभद्र व्यवहार,अधिवक्ता संघ ने एसपी से की शिकायत

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

कोरबा/पाली:- कोरबा में एक एएसआई ने अधिवक्ता संघ के सदस्य व अन्य को धमकी दे डाली। पाली थाना में पदस्थ एएसआई ओम प्रकाश परिहार पर अधिवक्ताओं से दबंगई के साथ अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए एएसआई को अन्यत्र स्थानांतरण करने की मांग कोरबा पुलिस अधीक्षक से की गई है। साथ ही 10 दिवस के भीतर उचित कार्यवाही या स्थानांतरण नही होने पर आंदोलन की भी चेतावनी दी है।
ज्ञात हो को प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद दमदार व युवा चेहरा विजय शर्मा को प्रदेश का गृह मंत्री बनाया गया है और विजय शर्मा उसी उत्साह और जोश के साथ प्रदेश में कानून व्यवस्था दुरुस्त करने,आम जनता को न्याय दिलाने सहित पुलिस की छवि सुधारने की दिशा में कार्य कर रहे है किंतु पाली थाना में पदस्थ एएसआई ओम प्रकाश परिहार अपने दबंगई से पुलिस की छवि को धूमिल करने में लगे है। वाक्या 8 फरवरी को है जब अधिवक्ता संघ पाली का सदस्य अपने मोटर सायकल चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज कराने अधिवक्ता संघ के सचिव उपवन खैरवार के साथ थाना पहुंचा था किंतु एएसआई ओम प्रकाश परिहार को वकीलों का थाना आने पर आपत्ति करते हुए कोर्ट के आदेश से ही आप थाना प्रवेश कर सकते है जैसे बात कहते हुए तू और रे जैसे अपमान जनक शब्दो का प्रयोग करने लगे,जिसमे बाद अधिवक्ता द्वे ने इसकी जानकारी अपने वरिष्ठों को दी तब वरिष्ठ अधिवक्ता और जनपद पंचायत पाली के उपाध्यक्ष नवीन कुमार सिंह,पूर्व अध्यक्षा रीमा वर्मा और संघ के सह सचिव दिलीप शर्मा थाना पहुंचे और एएसआई श्री परिहार से थाना में रिपोर्ट दर्ज कराने कोर्ट के आदेश सहित उसने द्वारा अधिवक्ताओं से की गई अभद्र व्यवहार के संबंध में जानना चाहा जिस बात से एएसआई पुन: भड़क गए और आए हुए वरिष्ठ अधिवक्ताओं से भी तू और रे जैसे शब्द फिर प्रयोग करने लगे जबकि महिला अधिवक्ता भी साथ में थी, सोचनीय है को एक एएसआई विधि के जानकार वकीलों से इस तरह व्यवहार करते है तो आम पीड़ित या प्रार्थी से किस तरह बातचीत और व्यवहार रखते होंगे। सूत्रों की माने तो पूर्व में एक व्यापारी सहित जनप्रतिनिधियों और पत्रकारों से भी इस तरह का वाक्या हो चुका है जिसको लेकर भी व्यापारियों,पत्रकारों और जनप्रतिनिधियों को रोष है एएसआई ओम प्रकाश परिहार की शिकायत का बन बना रहे है, खैर मामले की शिकायत कोरबा पुलिस अधीक्षक से की गई है अब देखने वाली बात है कि उच्चाधिकारी मामले की जांच कर एएसआई पर क्या कार्यवाही करते है।

Jitendra Dadsena

50% LikesVS
50% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button