अन्य खबर

अंबिका परियोजना प्रभावितों को रोजगार में देरी पर कलेक्टर संजीव झा ने एसईसीएल के अधिकारियों पर जताई गहरी नाराजगी, एक सप्ताह में नामांकन की प्रक्रिया शुरू करने के दिए निर्देश। ग्राम बांधाखार से राहाडीह मार्ग की हालत सुधारने पीडब्ल्यूडी को दिए निर्देश।

WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
WhatsApp Image 2024-03-09 at 21.00.10
previous arrow
next arrow
Shadow

कलेक्टर संजीव झा ने आज कलेक्टोरेट सभा कक्ष में आयोजित जनचौपाल में आमजनों की समस्याएं सुनी और उनके त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। जनचौपाल में आज 190 लोगों ने आवेदन प्रस्तुत किए। जनचौपाल में एसईसीएल कोरबा एरिया अंतर्गत प्रस्तावित अंबिका परियोजना से प्रभावित कुछ ग्रामीणों ने नौकरी की मांग रखी। ग्राम करतली के नवयुवक कल्याण समिति की ओर से कलेक्टर के समक्ष शिकायत करते हुए कहा गया कि अंबिका ओपन कास्ट कोल माइन्स परियोजना के लिए एसईसीएल ने जमीन का अधिग्रहण किया है, जिसका मुआवजा भी लगभग 80 प्रतिशत खातेदारों को वितरित कर दिया गया है, लेकिन इसके बाद भी एसईसीएल प्रबंधन न तो नौकरी नहीं दे रहा है, न ही नौकरी के आवेदनों पर प्रबंधन द्वारा कोई कार्यवाही की जा रही है। कलेक्टर श्री संजीव झा ने इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए एसईसीएल कोरबा एरिया प्रबंधन को फटकार लगाई और एक सप्ताह में रोजगार के लिए पात्र खातेदारों को नौकरी देने नामांकन शुरू करने के निर्देश एसईसीएल कोरबा एरिया के जी.एम. को दिए हैं। इसी तरह एसईसीएल कोरबा एरिया अंतर्गत ही सराईपाली परियोजना से प्रभावित ग्राम केराझरिया निवासी बालकेश्वर श्रीवास्तव ने शिकायत रखी कि सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद और दो बार साक्षात्कार हो जाने पर भी एसईसीएल प्रबंधन नौकरी नहीं दे रहा है। इस शिकायत पर भी कलेक्टर ने एसईसीएल कोरबा प्रबंधन पर नाराजगी जताई और संबंधित आवेदक को जल्द नौकरी देने के निर्देश दिए। जनचौपाल में अपर कलेक्टर विजेंद्र पाटले, जिला पंचायत के सीईओ नूतन कंवर, नगर निगम के आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर शिव बनर्जी सहित सभी अनुविभागों के एसडीएम और अन्य विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।
    कलेक्टर संजीव झा ने भू-विस्थापितों को नौकरी देने में लेट लतीफी को लेकर एसईसीएल प्रबंधन के अधिकारियों को फटकार लगाई। पाली जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पंचायत डोंगानाला की सरपंच ने ग्राम बांधाखार से राहाडीह तक लोक निर्माण विभाग के जर्जर सड़क की समस्या कलेक्टर समक्ष बतायी। सड़क से सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन होता है। वहीं सड़क की हालत काफी खराब होने से दुर्घटना के साथ ही सड़क से उड़ने वाली धूल से अस्थमा, टीबी जैसी गंभीर बीमारियों का खतरा बना हुआ है। कलेक्टर ने इस समस्या को लेकर पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को सड़क का मरम्मत कराने के लिए आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सड़क से उड़ने वाले धूल-डस्ट पर नियंत्रण के लिए  एसईसीएल से सड़क पर नियमित पानी का छिड़काव कराने के भी निर्देश दिए।
  जनचौपाल में श्रीया स्वसहायता समूह की अध्यक्ष नीलम सोनी ने मांग रखी कि स्वरोजगार के रूप में गढ़कलेवा का संचालन करने के लिए रिक्त स्थान व शासकीय भवन उपलब्ध कराया जाये। इस मांग पर कलेक्टर ने एसडीएम कटघोरा को निर्देशित करते हुए स्वसहायता समूह को स्थान उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। इसी प्रकार जनचौपाल में नागरिकों ने फौती नामांतरण, जाति प्रमाण पत्र, पेंशन, खदान प्रभावित गांव में हेवी ब्लास्टिंग की वजह से कुंआ धंसने, मजदूरी भुगतान सहित अन्य शिकायतों के निराकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किए। कलेक्टर संजीव झा ने जनचौपाल में प्राप्त आवेदनों के निराकरण के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिए।

Jitendra Dadsena

100% LikesVS
0% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button